28

हर चोट और उनके निशान,बहुत कुछ नया सीखा जातें हैं, बहते अश्क़ मज़बूत बना जातें हैं....

Read this post on rekhasahay.wordpress.com


Dr. Rekha Rani

blogs from Pune