हिंदी कविता – उदास आँखें

Top Post on IndiBlogger
29

जीवन के सभी रंगों को समेटे हमेशा ही कुछ आंखे उदास सी रह जाती हैं। चेहरे पर हर भाव होता है उनके, पर जीवनधारा में बहते हुए, कभी कुछ ना कहते हुए एक ही प्रकार की उदास आंखों को आपने भी तो देखा होगा।

Read this post on pakheru.com


Ravi Prakash Sharma

blogs from New Delhi